kesari.tv
2 Years Of Demonetisation: Success or failure?
8 नवंबर को रात 8 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो नोटबंदी का फैसला लिया था उसे सरकार अभी तक अपनी उपलब्धि बता रही है। लेकिन नोटबंदी के कारण लाखों लोगों के काम छिन गए, बुरे वक़्त के लिए घरों की महिलाओं ने सालों से जो रकम जोड़ रखी थी वो हवा हो गई , छोटे बच्चों के गुल्लक टूट गए , छोटे और मंझोले उद्योगों को भारी नुकसान उठाना पड़ा और कितनी जाने गईं उस नुक्सान की जवाबदेही क्या सरकार की नहीं है? यह कौनतय करेगा कि सरकार का यह फैसला सही था या गलत ?