jsbjm.org
बालाजी महाराज श्री राम के सेवक थे या सीता के ?
एक दिन की बात है श्री रामचन्द्र जी और सीता जी बैठे हुए थे। आपस में बातें हो रही थी। बालाजी महाराज की चर्चा छिड़ी तो श्री राम जी ने कहा – “हनुमान मेरा बड़ा भक्त है।” सीता जी ने कहा – “अजी वाह! आपने यह कैसे जाना ? वह तो मेरा भक्त है।” श्री …