amandhally.net
Hindi Poetry : इश्क़ दे रोग
लगे इश्क़ दे रोग एह जे , इह रोग ठीक कराये न गए,। दिल इह जे लगे उहनां दे नाल, की छुड़ाये न गए, । पत्थर दिल सी ओह यार बड़े, रोये बहुत , पर ओह पिघलाये न गए,। मर गए “अमन” उहनां दी यादाँ दे वीच, पर वेखो …