smilingexpert.com
चींटी की मेहनत – हिंदी मोटिवेशनल कहानी | SmilingExpert
चींटी की मेहनत - हिंदी मोटिवेशनल कहानी एक बार की बात है एक टिड्डी थी जो की एक लापरवाह जीवन जी रही थी । वो अपना सारा समय धुप में बैठ के आनंद लेने में बिताती थी | जब मन होता खाती | जब मन होता सोती | उसके पास दुनिया में करने के लिए कोई काम नहीं था सिवाय आराम के | एक दिन ऐसे ही वो धुप में बैठ के आराम कर रही थी तो उसने एक चींटी को एक छोटे से रोटी के टुकड़े खींचने की कोशिश करते हुए देखा । टिड्डी ने पूछा, हे चीटी ! क्या कर रहे हो ", चींटी ने जवाब दिया," मैं सर्दियों के लिए भोजन जमा कर रही हूं, अभी मौसम गर्म है एक बार सर्दियों सुरु हो जाये तो मैं घर पर रहना और आनंद लेना चाहती हूं और उसी समय के लिए भोजन के अपने स्टॉक जमा कर रही हूँ । " टिड्डी मन ही मन उसपे हंसी और कहा, "ऐसे उबाऊ काम के लिए अभी तो पर्याप्त समय है। अभी तुम्हे मेरे जैसे मजा करने के लिए कुछ समय निकलना चाहिए । चींटी ने टिड्डी को समझाने की कोशिश की कि उसे समय बर्बाद नहीं करना चाहिए इसके बजाय उसे भी काम करना चाहिए | लेकिन टिड्डी ने चींटी की बात नहीं सुनी। फिर धीरे धीरे जल्द ही गर्मिया गुजर जाती है और सर्दियों का मौसम आ जाता