shayrana.org
दिल काँच का होता है … | Shayrana.org
दिल काँच का होता है लिखना क्या है, टूट गया फेंक दो रखना क्या है !! . SHoaiB