shayrana.org
सुबह की चाय आपकी … | Shayrana.org
सुबह की चाय आपकी याद, लगता है जैसे सब कुछ ठीक है..... पर में जानता हूँ कुछ ठीक नहीं हो सकता अब हमारे बीच।। . SHoaiB