shayrana.org
अब तो अपनी चाहत की … | Shayrana.org
अब तो अपनी चाहत की जायदाद बक्श दो, हमको एक अरसा हो गया तेरी मोहब्बत की किश्तें भरते भरते..😎