shayrana.org
क्या वजह है प्यार … | Shayrana.org
क्या वजह है प्यार में बेहद कमी चारों तरफ, क्या वजह है आंख में बेहद नमी चारों तरफ। सिर्फ अपना स्वार्थ ही अब हो गया सर्वोपरि, आदमी के खूँ का प्यासा आदमी चारों तरफ। अब मुहब्बत के तराने कोई भी गाता नहीं, जहर जैसे बोल कडुए और गमी चारों तरफ। यारी भी अब लोग करते हैं बशर को देख कर, जाने क्यों फैली हुई है दुश्मनी चारों तरफ। आओ ठंडक ढूंढ कर लाते हैं थोड़ी सी ए दिल, क्रोध की अग्नि से तपती है ज़मीं चारों तरफ। . SHoaiB