shayrana.org
Aaj maine apna fir sauda kiya | Shayrana.org
आज मैंने अपना फिर सौदा किया और फिर मैं दूर से देखा कियाज़िन्‍दगी भर मेरे काम आए असूलएक एक करके मैं उन्‍हें बेचा कियाकुछ कमी अपनी वफ़ाओं में भी थीतुम से क्‍या कहते कि तुमने क्‍या कियाहो गई थी दिल को कुछ उम्‍मीद सीखैर तुमने जो किया अच्‍छा किया Javed akhtar