shayrana.org
Nigahon mein khumar aata hua mehsoos hota hai | Shayrana.org
निगाहों में ख़ुमार आता हुआ महसूस होता है तसव्वुर जाम छलकाता हुआ महसूस होता है ख़िरामे- नाज़ -और उनका ख़िरामे-नाज़ क्या कहना ज़माना ठोकरें खाता हुआ महसूस होता है ये एहसासे-जवानी को छुपाने की हसीं कोशिश कोई अपने से शर्माता हुआ महसूस होता है तसव्वुर एक ज़ेहनी जुस्तजू का नाम है शायद दिल उनको ढूँढ कर लाता हुआ महसूस होता है किसी की नुक़रई पाज़ेब की झंकार के सदक़े मुझे सारा जहाँ गाता हुआ महसूस होता है 'क़तील'अब दिल की धड़कन बन गई है चाप क़दमों की कोई मेरी तरफ़ आता हुआ महसूस होता है Qateel shifai