shayrana.org
Muhabbat me wafadari se bachiye | Shayrana.org
मुहब्बत में वफ़ादारी से बचिये जहाँ तक हो अदाकारी से बचिये हर एक सूरत भली लगती है कुछ दिन लहू की शोबदाकारी से बचिये शराफ़त आदमियत दर्द-मन्दी बड़े शहरों में बीमारी से बचिये ज़रूरी क्या हर एक महफ़िल में आना तक़ल्लुफ़ की रवादारी से बचिये बिना पैरों के सर चलते नहीं हैं बुज़ुर्गों की समझदारी से बचिये Nida Fazli