sablog.in
किन्नरों के जीवन का सच – सुशील कुमार | | सबलोग
किन्नर के जीवन पर जम्मू विश्वविद्यालय के हिन्दी विभाग के शोधार्थी सुशील कुमार की राय|