sablog.in
जो बेदर्द हो हाकिम, वहां फरियाद ही क्या करना