sablog.in
इतिहास की हर घटना एक मोड़ होती है, मंज़िल नहीं - अब्दुल ग़फ़्फ़ार
इस मौक़े पर मैं अपने देश, अपनी सरकार और अपनी सेना के साथ खड़ा हूं। अचानक ही सही लेकिन बड़ा ऑपरेशन हुआ है।