poshampa.org
नयी किताब: चंद्रेश्वर कृत 'सामने से मेरे' - पोषम पा
New Hindi Book: 'Samane Se Mere' by Chandreshwar. चंद्रेश्वर प्रतिरोध और प्रेम के समकालीन कवि हैं। पढ़ने में उनकी कविताएँ जितनी सरल हैं, लिखने में उतनी ही कठिन। वे अदृश्य विडम्बनाओं को सहज ही दृश्यमान कर देने की कला में माहिर हैं। उनकी कविताओं में निहित सूक्ष्म व्यंग्य चूंकि ऊपर से दिखाई तक नहीं देता, इसलिए गहरी मार...