firstnews24x7.com
तुम जाओ और दरिया-दरिया प्यास बुझाओ : फ़राज़
उसने कहा सुन ,अहद निभाने की ख़ातिर मत आना ,अहद निभानेवाले अक्सर मजबूरी या, महजूरी की थकन से लौटा करते हैं
[object Object]