kadamtaal.com
साधु और वेश्या। दूसरों का दोष मत देखो - कदमताल
साधु और वेश्या। दूसरों का दोष का मत देखो एक बहुत ही पहुँचे हुए अतिवृद्ध साधु थे। वे एक जगह नहीं रुकते थे, जहाँ मन लगा वही धूनी भी लगा ली। वे घूमते-घूमते एक