shakahar.in
वनस्पतिक आहारियों को ‘हास्यबोध’ सुधारने की सलाह बंद कीजिए
ये साबित करने के लिए ना कहें कि वे जानवरों की तरह ही लोगों की परवाह भी करते हैं।