shakahar.in
देखिये दुग्ध-उत्पाद में कैसे छुपी है हिंसा  
जो भी कहो, डेरी या दूध उद्योग क्रूरता से भरे है।