realshayari.com
किसी को दिल में बसाना खता तो नहीं  | Real Shayari
किसी को दिल में बसाना खता तो नहीं