realshayari.com
जिक्र करता है दिल सुबह शाम तेरा | Real Shayari
जिक्र करता है दिल सुबह शाम तेरा