realshayari.com
आंसुओ की तरह बिछड़ जाते है लोग | Real Shayari
आंसुओ की तरह बिछड़ जाते है लोग